ALL राजनीति खेल अपराध मनोरंजन कृषि विज्ञान राज्य योजनाएं धर्म देश - विदेश
उद्योग विभाग-एक संवाद
December 10, 2019 • छोटा अखबार • राज्य

उद्योग विभाग-एक संवाद

छोटा अखबार।
 उद्योग व राजकीय उपक्रम मंत्री परसादी लाल मीणा संभागीय स्तर पर आयोजितसंभागीय औद्योगिक संवादकार्यशाला मेंजयपुर संभाग के''उद्योग विभाग-एक संवाद''कार्यक्रम में बुधवार 11 दिसम्बर को औद्योगिक परिसंघों से संवाद करेंगे।''उद्योग विभाग-एक संवाद'' कार्यशाला का आयोजन सीतापुरा स्थित जयपुर एक्जिविसन एवं कन्वेंसन सेंटर जेईसीसी में 11 दिसम्बर को दोपहार 2.30 बजे से होगा।संवाद कार्यक्रम में जयपुर, दौसा, झुन्झुनू, सीकर, अलवर और भिवाडी के करीब तीन दर्जन से अधिक औद्योगिक परिसंघ व संबंधित अधिकारी हिस्सा लेेंगे।अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि संभागीय औद्योगिक संवाद कार्यक्रम उद्योग विभाग-एक संवाद के आयोजन का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में समग्र औद्योगिक विकास को गति देना, जिलों में निवेश की संभावनाओं को तलाशना, निवेश के लिए प्रोत्साहित करना और औद्योगिक परिसंघों और संबंधित विभागों से जिला स्तर पर ही समन्वय स्थापित कर स्थानीय स्तर पर बेहतर तालमेल विकसित कर औद्योगिक निवेश बढ़ाना है।


संभागीय औद्योगिक संवाद कार्यशाला में राजस्थान एमएसएमई एक्ट 2019 के प्रमुख बिन्दुओं, एकल खिड़की के माध्यम से समयवद्ध अनुमतियां,े राज्य सरकार की नई निवेश नीति के लिए सुझाव, वन स्टॉप शॉप की जानकारी, उद्यमियों की समस्याओं व परिवेदनाओं पर उच्च अधिकारियों से सीधी चर्चा, निवेशकों के साथ वन टू वन मीटिंग, विवाद एवं शिकायत निवारण तंत्र, राजस्थान सूक्ष्म एवं लघु उद्यम सुविधा परिषद, राजस्थान निर्यात संवद्र्धन परिषद, राजस्थान निर्यात संवद्र्धन समन्वय परिषद, सीएसआर प्राधिकरण,आरएफसी की युवा उद्यमियता प्रोत्साहन योजना, रीको के औद्योगिक भूखण्डों की नीलामी, स्टोन स्लरी के निस्तारण के लिए सीडोस द्वारा उठाए जा रहे कदम आदि की जानकारी देने के साथ ही इन पर सुझाव व फीडबेक भी लिया जाएगा।
आयुक्त मुक्तानन्द अग्रवाल ने बताया कि संभागीय संवाद कार्यक्रम के तहत उदयपुर, कोटा, अजमेर, बीकानेर, जोधपुर और भरतपुर में संवाद कार्यक्रम में उद्यमियों से संवाद किया जा चुका है। अब जयपुर संभाग के औद्योगिक संघों से परिसंवाद का आयोजन किया गया है औद्योगिक संवाद कार्यक्रम को प्रभावी बनाने के लिए राज्य स्तर से अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।