ALL राजनीति खेल अपराध मनोरंजन कृषि विज्ञान राज्य योजनाएं धर्म देश - विदेश
मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर महिला को पोर्न वीडियो दिखाने का आरोप 
January 29, 2020 • छोटा अखबार • देश - विदेश

मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर महिला को पोर्न वीडियो दिखाने का आरोप 

छोटा अखबार।
देश में बॉलीवुड के मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर एक महिला ने जबरन पोर्न वीडियो दिखाने का आरोप लगाते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग को पत्र लिखा है।असिस्टेंट कोरियोग्राफर का आरोप है कि वह जब भी आचार्य के अंधेरी स्थित दफ्तर जाती थी, वह उन्हें पोर्न वीडियो देखने को मजबूर करते थे।

महिला ने अंबोली पुलिस थाने में दर्ज शिकायत में आरोप लगाया है कि गणेश आचार्य और दो महिलाओं ने रविवार को अंधेरी में आयोजित इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन कोरियोग्राफर्स एसोसिएशन (आईएफटीसीए) के कार्यक्रम के दौरान उससे मारपीट की थी। राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित गणेश आचार्य इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन कोरियोग्राफर्स एसोसिएशन के महासचिव भी हैं।अंबोली पुलिस अधिकारी ने कहा कि पीड़ित महिला ने आचार्य के अलावा दो अन्य महिलाओं जयश्री केलकर और प्रीति लाड पर भी मारपीट का आरोप लगाया है। ये दोनों महिलाएं आचार्य की कोरियोग्राफी समूह की सदस्य हैं।दुसारी ओर जयश्री केलकर केलकर और लाड ने पीड़ित महिला के खिलाफ अंबोली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।महिला ने एनसीडब्ल्यू को लिखे पत्र में कहा है कि वह जब भी गणेश आचार्य के दफ्तर जाती थीं, आचार्य उन्हें आपत्तिजनक वीडियो देखने को मजबूर करते थे। अंबोली थाने में दर्ज शिकायत के अनुसार महिला ने कहा है कि गणेश आचार्य फिल्म इंडस्ट्री में काम दिलाने के लिए उससे कमीशन मांगते थे।


पुलिस का कहना है कि गणेश आचार्य ने भी पीड़ित महिला के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। वहीं पीड़ित महिला ने दूसरी शिकायत में कहा है कि इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन कोरियोग्राफर्स एसोसिएशन का महासचिव बनने के बाद आचार्य ने उनसे हर वर्क असाइनमेंट के लिए 500 रुपये मांगे। वह जब भी उनके ऑफिस गईं, उन्हें पोर्न वीडियो दिखाया गया और आचार्य के साथ पोर्न वीडियो देखने को मजबूर किया गया। महिला का कहना है कि ये सब करने से मना करने के बाद उन्हें आईएफटीसीए की सदस्यता से हटा दिया गया। पीड़ित महिला आईएफटीसीए की सदस्य थीं। 
वहीं दुसरी ओर गणेश आचार्य ने अपनी सफाई में इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि यह महिला आईएफटीआईसीए डांस एसोसिएशन की सदस्य भी नहीं हैं, जैसा कि दावा कर रही हैं। मैं बेमुश्किल ही उन्हें जानता हूंं। मैं उन्हें अकेले अपने ऑफिस बुलाकर पोर्न वीडियो क्यों दिखाऊंगा।आचार्य ने कहा कि उन्हें सबूत देने दीजिए। मैं उनके खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज करूंगा। मेरे पास सीसीटीवी फुटेज है, जिससे पता चलता है कि 26 जनवरी के कार्यक्रम स्थल से मैं चला गया, जिसके बाद महिला की दो अन्य महिला सदस्यों के साथ हाथापाई हुई थी।