ALL राजनीति खेल अपराध मनोरंजन कृषि विज्ञान राज्य योजनाएं धर्म देश - विदेश
महामारी के समाधान में आमजन का सहयोग लें -ऊर्जा मंत्री
April 8, 2020 • छोटा अखबार • राज्य

महामारी के समाधान में आमजन का सहयोग लें -ऊर्जा मंत्री

छोटा अखबार।
ऊर्जा, मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने कहा कि कोरोना वायरस विश्वव्यापी महामारी से  निपटने के लिए संसाधनो की कोई कमी नहीं है, लेकिन संकट की इस घड़ी में समस्या का समाधान करने के लिए आमजन का सहयोग लेते हुए काम करना है। 
कल्ला मंगलवार को बीकानेर सर्किट हाउस में कोरोना वायरस की रोकथाम और अब तक प्रशासन द्वारा किए कार्य की समीक्षा कर रहे थे। कल्ला ने अब तक जिले में मिले मरीजों की संख्या और उनके उपचार की स्थिति से जुड़े लोगों की ट्रैसिंग प्रक्रिया व संक्रमण फैलाव की स्थिति पर जानकारी ली।उन्होने कहा कि बीमारी ना फैले इसके लिए सेम्पलिंग ज्यादा से ज्यादा हो यह सुनिश्चित किया जाए और रेण्डम सेम्पलिंग भी बढ़ाई जाए। 


मंत्री ने लॉकडाउन और निषेधाज्ञा के दौरान खाद्य, दूध, दवा सहित आवश्यक वस्तुओं की वितरण की स्थिति की भी जानकारी ली तथा कहा कि प्रशासन यह सुनिश्चित करें कि लॉकडाउन या कर्फ्यू प्रभावित क्षेत्र में एक भी व्यक्ति भूखा ना सोए। समस्या का समाधान करने में एकजुटता रखते हुए कार्य करें संसाधनों की कोई कमी नहीं है। स्वास्थ्यकर्मियों के लिए मानदंडानुसार आवश्यक सुरक्षा उपकरणों जैसे मास्क, पीपीई किट की पर्याप्त उपलब्धता रखे और जो भी आवश्यक दवाएं हैं उनका भी एक दो माह का स्टॉक रखा जाए। कोई आपात स्थिति ना बने। 

आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुचारू रहे।
कल्ला ने कहा शहर में निषेधाज्ञा प्रभावित कई क्षेत्रों में राशन, सब्जी, दूध, दवा की आपूर्ति की शिकायतें आई थी इसके मद्देनजर प्रशासन इस बात का विशेष ध्यान रखे कि बीमार को दवा मिलना सुनिश्चित हो तथा जिस भी व्यक्ति को राशन, सब्जी आदि की आवश्यकता हो उसके लिए सम्बंधित थाना क्षेत्र के बाहर एक आपूर्ति वाहन तैनात कर दिया जाए ताकि मांग आने पर तुरंत प्रभाव से सम्बंधित के घर तक आवश्यक सामान की सप्लाई की जा सके और लोगों को परेशान ना होने पड़े। पुलिस जनता की समस्या को समझे अनावश्यक रूप से किसी को परेशान ना होना पड़े यह सुनिश्चित किया जाए। कल्ला ने कहा कि संकट की गंभीरता को जनता समझती है लेकिन आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित किसी भी स्थिति में बाधित नहीं होनी चाहिए। 

चिकित्सक फोन पर दें मरीजों को सलाह, आवश्यक रूप से उठाएं फोन।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सभी डॉक्टरों को पाबंद किया जाए कि यदि कोई मरीज किसी डाक्टरी सलाह के लिए फोन करता है तो सम्बंधित डॉक्टर तुरंत फोन उठाए और आवश्यक प्रिस्कि्रप्शन फोन पर ही व्हाटसऎप के जरिए उपलब्ध करवाएं। किसी भी मरीज को इलाज के लिए इंतजार ना करना पड़े यह सुनिश्चित किया जाए। यदि कोई डाक्टर इसका उल्लंघन करता पाए जाएं तो प्रशासन काउंसलिंग व आवश्यकता पड़ने पर कार्यवाही करे। सफाई कर्मियों को निषेधाज्ञा प्रभावित क्षेत्रों में आने जाने में किसी तरह की समस्याएं नहीं हो। पुलिस ध्यान रखे कि इन्हें आने जाने में परेशानी ना आए। प्रोटोकॉल के साथ समझौता किए बिना पुलिस प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि आम लोगों की आवश्यकताएं पूरी हो। सहयोग और एकजुटता से ही हम इस संकट से लड़ सकते हैं। सबसे अहम है कि इस बीमारी का कम्युनिटी स्प्रेडिंग नहीं हो और इसके लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं।