ALL राजनीति खेल अपराध मनोरंजन कृषि विज्ञान राज्य योजनाएं धर्म देश - विदेश
लॉकडाउन के दौरान एमपी ने चार बलात्कारों के साथ पाई विशेष उपलब्धि 
May 2, 2020 • छोटा अखबार • देश - विदेश

लॉकडाउन के दौरान एमपी ने चार बलात्कारों के साथ पाई विशेष उपलब्धि 

छोटा अखबार।

बुधवार 29 अप्रेल रात लगभग आठ बजे अपने भाई के साथ बाइक में पेट्रोल भरवाकर पास के गांव से अपने घर लौट रही थी तभी कुछ लोगों ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया और एक सुनसान सड़क पर उन्हें रोक लिया। आरोपियों ने उसके भाई की पिटाई की और उसे कुएं में फेंक दिया था।आरोपी पीड़िता को बाइक पर बैठाकर पास के जंगल में ले गए थे जहां उसका बलात्कार किया गया। पीड़िता लगभग चार घंटों तक उनके कब्जे में रही।

मध्य प्रदेश ने लॉकडाउन के दौरान चार बलात्कार की घटनाओं के साथ विशेष उपलब्धि हांसिल की है। घटना मध्य प्रदेश के बैतूल जिले की है। घटना के तहत रात के अंधेरे में सात लोगों ने कथित तौर पर 18 साल की युवती के साथ गैंगरेप किया है।


समाचार सूत्रों के अनुसार घटना में पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जिनमें तीन नाबालिग बताये जा रहे है तो वहीं दो फरार है।
यह भी बताया जा रहा है कि आरोपियों ने बलात्कार से पहले पीड़िता के भाई को कुएं में फेंक दिया और लगभग चार घंटों तक युवती का बलात्कार करते रहे।
एम पी पुलिस के अनुसार पीड़िता बुधवार 29 अप्रेल रात लगभग आठ बजे अपने भाई के साथ बाइक में पेट्रोल भरवाकर पास के गांव से अपने घर लौट रही थी तभी कुछ लोगों ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया और एक सुनसान सड़क पर उन्हें रोक लिया। युवती को पास के जंगल ले जाकर बलात्कार किया गया।
थाना प्रभारी के अनुसार आरोपी कप्पा गांव के थे और ये सात लोग थे। इन्होंने एक सुनसान सड़क पर दोनों को रोक लिया। पीड़िता के बयान के अनुसार आरोपियों ने उसके भाई की पिटाई की और उसे कुएं में फेंक दिया था।आरोपी पीड़िता को बाइक पर बैठाकर पास के जंगल में ले गए थे जहां उसका बलात्कार किया गया। पीड़िता लगभग चार घंटों तक उनके कब्जे में रही। 
एसपी ने बताया कि दोनों फरार आरोपियों संदीप और शुभम की पहचान की गई है। जिनकी तलाश की जा रही है। इस मामले में आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। जानकारी के लिए बतादें कि लॉकडाउन के दौरान यह मध्य प्रदेश में बलात्कार की चौथी घटना