ALL राजनीति खेल अपराध मनोरंजन कृषि विज्ञान राज्य योजनाएं धर्म देश - विदेश
गुजरात में छात्राओं से जबरन जाँच के लिए अंडरवियर उतरवाए
February 15, 2020 • छोटा अखबार • देश - विदेश

गुजरात में छात्राओं से जबरन जाँच के लिए अंडरवियर उतरवाए

छोटा अखबार।
गुजरात के श्री सहजानंद गर्ल्स इंस्टीच्यूट (SSGI) के होस्टल की छात्राओं से कथित तौर पर जबरन इस बात की जाँच के लिए अंडरवियर उतरवाए गए कि उन्हें कहीं पीरियड्स तो नहीं हो रहे।


गुजरात समाचार सूत्रो के अनुसार होस्टल प्रमुख ने प्रिंसिपल से शिकायत की थी कि कुछ लड़कियों ने पीरियड्स के दौरान छात्रावास की धार्मिक परंपरा की अवमाननना की है। इस शिकायत के बाद छात्राओं को स्वामीनारायण संप्रदाय के नियमों को लेकर सख़्त बातें कही गईं और कहा गया कि जो भी छात्रा पीरियड्स से ग़ुजर रही है वो अपनी इच्छा से सामने आए। छात्राओं का कहना है कि इस घटना से उन्हें मानसिक सदमा पहुँचा है और वे इसके लिए ज़िम्मेदार लोगों के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई की माँग कर रही हैं।


गुजरात महिला आयोग की अध्यक्ष लीलाबेन अंकोलिया ने खबरनविसों को बताया कि आयोग की ओर से पुलिस के सामने चार लोगों के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज की गई है जिनमें कॉलेज की प्रिंसिपल भी शामिल हैं। इस घटना की जाँच के लिए एक समिति गठित की है जो कॉलेज का दौरा करेगा। वहीं कॉलेज प्रशासन ने इस घटना पर हैरानी जताते हुए कहा है कि इस बारे में जाँच की जाएगी और किसी भी चूक को स्वीकार नहीं किया जाएगा। हालाँकि कच्छ यूनिवर्सिटी की उप-कुलपति ने कहा है कि ये मामला कॉलेज नहीं बल्कि होस्टल का है और इस मामले में नियमों को तोड़ने वाली छात्राओं ने माफ़ी भी माँगी है।


कॉलेज की कुछ छात्राओं से पत्रकारों ने बात की तो पता चला की 11 फ़रवरी को सारे होस्टल और कैम्पस के सामने छात्राओं एक-एक कर बाथरूम ले जाया गया और देखा गया कि हमें पीरियड्स तो नहीं हो रहा।  हमें किसी ने हाथ नहीं लगाया लेकिन उनकी बातों से इतना डर गए कि हमने अपने कपड़े उतारकर उन्हें जाँच करने दिया। कुछ छात्राओं ने आरोप लगाया कि उन्हे भावुक बनाते हुए ब्लैकमेल किया गया और हमसे चिट्ठी लिखवाई कि हम इस मामले को आगे नहीं बढ़ाएँगे साथ ही हमें इस संप्रदाय या कॉलेज से कोई दिक़्क़त नहीं है।