ALL राजनीति खेल अपराध मनोरंजन कृषि विज्ञान राज्य योजनाएं धर्म देश - विदेश
दुनिया सबसे ख़तरनाक बलात्कारी ब्रिटेन में
January 8, 2020 • छोटा अखबार • देश - विदेश

दुनिया सबसे ख़तरनाक बलात्कारी ब्रिटेन में

छोटा अखबार।
ब्रिटेन पुलिस के अनुसार रिनहार्ड नाम के व्यक्ति पर 159 यौन अपराधों में 136 बलात्कार के अपराध दर्ज थे। ब्रिटेन की अदालत ने कहा है कि रिनहार्ड 48 मर्दों को बहला फुसला कर अपने फ़्लैट में ले गया था और फिर उनके साथ बलात्कार किया था। पुलिस के पास इस बात के सुबूत हैं कि रिनहार्ड ने 190 लोगों को निशाना बनाया था। 36 वर्षीय रिनहार्ड पहले से ही दो मामलों में उम्रक़ैद की सज़ा काट रहे हैं। ब्रिटेन में रह रहे इंडोनेशिया के नागरिक रिनहार्ड सनागा को अदालत ने चार अलग-अलग मुक़दमों में 136 बलात्कार, आठ बलात्कारों की कोशिश और 14 अन्य यौन अपराधों का दोषी पाया है।

जांच में ये भी पता चला है कि सनागा आम तौर पर उन पुरुषों को अपना निशाना बनाता था जो समलैंगिंक नहीं थे। पुलिस का कहना है कि ब्रिटेन के पूरे न्यायिक इतिहास में रिनहार्ड सनागा सबसे ख़तरनाक बलात्कारी है और आशंका है कि वो पूरी दुनिया में भी सबसे ख़तरनाक बलात्कारी हो।सोमवार को अदालत में सुनवाई के दौरान जस्टिस सुज़ैन गोडार्ड ने कहा कि रिनहार्ड सनागा एक शैतान माफ़िक़ यौन शिकारी है जिसे कभी भी रिहा करना ख़तरनाक होगा।सनागा नाइट क्लबों और बार से बाहर निकलने वाले मर्दों का इंतज़ार करता था और फिर उन्हें बहला फुसला करअपने फ़्लैट में ले जाता था।

सनागा अपने शिकार को शराब या उनके लिए टैक्सी मंगवाने की पेशकश करता था। पुरुषों का बलात्कार से पहले उन्हें बेहोशी की दवा दे देता था। जागने के बाद पीड़ित लोगों में से ज़्यादातर को पता ही नहीं होता था कि उनके साथ क्या हुआ है। सनागा को जून 2017 में गिरफ़्तार किया गया था जब उसका एक शिकार बनने वाला व्यक्ति बलात्कार की कोशिश के दौरान होश में आ गया और उसने पुलिस को बुला लिया। जब पुलिस ने सनागा का मोबाइल फ़ोन अपने क़ब्ज़े में लिया तो उन्हें सैकड़ों घंटों की फुटेज मिली जो सनागा ने बलात्कार के दौरान बनाई थीं। यह ब्रिटेन के इतिहास में बलात्कार की सबसे बड़ी जाँच का कारण बना। पुलिस ने बताया है कि सनागा पीड़ितों को बेहोश करने के लिए कुछ बेहद ख़तरनाक और प्रतिबंधित ड्रग्स का इस्तेमाल करता था।इस पुरे मामले में सनागा ने ख़ुद को बेग़ुनाह बताया है और कहा है कि उन्होंने सभी पुरुषों से 'उनकी सहमति से सम्बन्ध बनाए।

उस ने अदालत में अपने बचाव में कहा कि सभी पुरुषों ने अपनी वीडियो बनाए जाने पर भी सहमति जताई थी। जज ने उसकी इस दलील को बेसिरपैर का बताया और सज़ा सुनाते वक़्त अदालत में कुछ पीड़ितों के बयान भी पढ़े गए।कई अन्य पीड़ितों ने कहा कि जब तक पुलिस ने उनसे संपर्क नहीं किया तब तक उन्हें इस बात का अहसास भी नहीं था कि उनके साथ बलात्कार किया गया था।सनागा के शिकार कई पीड़ित पुरुषों की मैनचेस्टर स्थित सेंट मैरी सेक्शुअल असॉल्ट रेफ़रल सेंटर में काउंसलिंग की जा रही है। जांचकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने सनागा के शिकार हुए 70 अन्य पीड़ितों की पहचान करने में सफल नहीं हो पाए हैं और वो पीड़ितों से निडर होकर सामने आने की अपील कर रहे हैं।